‘जख्मी जूतों वाले डॉक्टर’ को महिंद्रा के तरफ से मिला ये तोहफा।

By


‘जख्मी जूतों का अस्पताल’ के बारे में आपने सुना तो होगा ही। कुछ दिन पहले सोशल मीडिया इस पोस्ट को देखने के बाद ऑटोमोबाइल कंपनी महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्वीट किया था, “इस आदमी को इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट” में मार्केटिंग की पढ़ाई करवानी चाहिए।”


महिंद्रा जींद के रहने वाले “जख्मी जूतों का अस्पताल” आइडिया से इतना प्रभावित हुए कि उन्होंने अपनी टीम नरसी राम के पास भेजी।
नरसी राम से जब टीम ने पूछा कि उन्‍हें क्‍या चाहिए तो उन्‍होंने कहा कि वह बस मदद के तौर पर एक kiosk यानी बूथ जैसी दुकान चाहते हैं। लिहाजा महिंद्रा ने एक स्टूडियो डिजाइन करवाया है, जो अपने आप में एक ‘जूतों का अस्‍पताल’ है।

Source


आनंद ने अपनी कंपनी महिंद्रा से यह स्टूडियो डिजाइन करवाया है। इस स्टूडियो को हर लिहाज से बेहतर बनाने की इंजीनियर्स ने कड़ी मेहनत की है। जूतों की मरम्मत करने वाला इस स्टूडियों में बैठने के बाद बारिश और धूप से उसका बचाव होगा। और अब महिन्द्रा ने ‘जख्मी जूतों का अस्पताल’ नाम के इस आइडिया में इन्वेस्ट किया है। महिंद्रा की इस प्रोजेक्ट से लोगों को फायदा होने वाला है।
आगे पढ़िए : गूगल मैप्स ने लाया नया फीचर्स, अब शौचालय की भी मिलेगी जानकारी।

You Might Like These

Leave a Comment